कम्प्यूटरीकरण की स्थिति

सचिवालय का कम्प्यूटरीकरण

    सचिवालय की ईगवर्नेन्स एवं कम्प्यूटरीकरण योजना के अन्तर्गत निर्धारित नीति के अनुसार 2234 डेस्कटाप कम्प्यूटर्स एवं सहवर्ती उपकरणों की आवश्यकता आंकलित है। उक्त योजना के अंतर्गत वर्ष 2001-02 (प्रथम चरण में) में 83 कम्प्यूटर क्रय कर आवंटित किये गये। तत्पश्चात चरण्बद्ध तरीके से कम्प्यूटरों का क्रय करते हुए आवंटन किया जाता रहा। दसवें चरण तक कुल 2308 कम्प्यूटर क्रय कर आवंटित किेये जा चुके है। ग्यारहवें चरण में 2014 में 155 कम्प्यूटर क्रय किेये गये हैं जिनका आवंटन लगभग पूरा हो रहा है। वर्ष 2005 तक क्रय किेय गये कम्प्यूटरों को निष्प्रयोज्य घोषित करते हुए नीलामी की जा चुकी है। इसके साथ जो भी कम्प्यूटर समय-समय पर निष्प्रयोज्य हो रहे हैं, उन्हें सचिवालय प्रशासन भण्डार प्रथम में जमा किया जा रहा है। सचिवालय के अनुभागों एवं सचिवालय की कार्यप्रणाली को कम्प्यूटरीकृत किये जाने हेतु वरिष्ठ अधिकारियों की एक उच्चस्तरीयसमिति गठित है जिसकी संस्तुतिनुसार सचिवालय में कम्प्यूटरीकरण का कार्य कराया जा रहा है। समस्त प्रमुख सचिव/ सचिव स्तर के अधिकारियों एवं उनके निजी स्टाफ को अलग- अलग कम्प्यूटर उपलब्ध कराया जा चुका है। अनु सचिव से विशेष सचिव स्तर तक के अधिकारियों को भी कम्प्यूटर उपलब्ध कराया जा चुका है। निर्धारित नीति के अनुसार अनु सचिव से प्रमुख सचिव स्तर के अधिकारियों एवं उनके निजी स्टाफ को अलग-अलग कम्प्यूटर तथा अनुभाग/ प्रकोष्ठों में कम से कम 03 कम्प्यूटर उपलब्ध कराया जाना है। ।

 वरिष्‍ठ अधिकारियों (प्रमुख सचिव/सचिव) व विशेष सचिव अधिकारियों को लैपटाप व अन्‍य कम्‍प्‍यूटर उपकरणों की अनुमन्‍यता

ई-गवर्नेन्‍स के प्रभावी क्रियान्‍वयन हेतु शासन स्‍तर पर तैनात वरिष्‍ठ अधिकारियों व विशेष सचिव स्‍तर के अधिकारियों को कम्‍प्‍यूटर उपकरण (यथा लैपटाप, पर्सनल कम्‍प्‍यूटर, टैबलेट आदि) विकेन्द्रित व्‍यवस्‍था के अन्‍तर्गत अनुमन्‍य किये गये हैं और वर्तमान में उक्‍त व्‍यवस्‍थान्‍तर्गत लगभग सभी विभागों के प्रमुख सचिव/सचिव व विशेष सचिव अधिकारियों को कम्‍प्‍यूटर उपलब्‍ध कराये जा चुके हैं। 

ई-गवर्नेन्स प्रशिक्षण

    आई. टी. एवं इलेक्‍ट्रानिक्‍स विभाग द्वारा नोडल संस्‍था यू. पी. डेस्‍को के माध्‍यम से सचिवालय सेवा संवर्ग के अधिकारियों एवं कर्मचारियों हेतु आयोजित 13 दिवसीय (100 घण्‍टे) ई-गवर्नेन्‍स अनिवार्य कम्‍प्‍यूटर प्रशिक्षण में अनुभाग अधिकारी सम्‍वर्ग से कम्‍प्‍यूटर सहायक सम्‍वर्ग तक के लगभग सभी कार्मिकों को नामित कर प्रशिक्षण प्रदान किया जा चुका है। उक्‍त प्रशिक्षण कार्यक्रम के अन्‍तर्गत कुल 3289 कार्मिकों द्वारा प्रशिक्षण प्राप्‍त किया गया। वर्तमान में सचिवालय प्रशिक्षण एवं प्रबन्‍ध संस्‍थान के वार्षिक प्रशिक्षण कैलेण्‍डर में निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार बापू भवन स्थित कम्‍प्‍यूटर लैब में कार्मिकों को ‘कोर्स आन कम्‍प्‍यूटर कन्‍सेप्‍टस’ विषय पर 13 दिवसीय कम्‍प्‍यूटर प्रशिक्षण प्रदान किया जा रहा है।

प्रवेश पत्र कार्यालय का कम्प्यूटरीकरण

    सचिवालय के समस्त प्रवेश पत्र कार्यालयों को आवश्यक कम्प्यूटर उपकरण एवं साफटवेयर उपलब्ध कराकर कम्प्यूटरीकृत किया जा चुका है। समस्त स्थायी/अस्थायी प्रवेश पत्र फोटोयुक्त एवं कम्प्यूटरीकृत निर्गत किये जा रहे है।

वेतन वितरण प्रणाली का कम्प्यूटरीकरण(इरला सहित)

    इरला चेक अनुभाग सहित सचिवालय के समस्त शाखा अधिष्ठानों से अधिकारियों एवं कर्मचारियों के मासिक वेतन बिलों को तैयार करने तथा चेक के माध्यम से भुगतान की कम्प्यूटरीकृत प्रणाली लागू की जा चुकी है। सभी प्रकार के अग्रिमों/जी0पी0एफ0/यात्रा भत्ता आदि के भुगतान तथा आय कर की कटौतियों का विवरण तैयार किये जाने का कार्य भी कम्प्यूटरीकृत कर दिया गया है।

पेंशन वितरण प्रणाली का कम्प्यूटरीकरण

    सचिवालय से सेवानिवृत्त हुए अधिकारियों/कर्मचारियों के पेंशन स्वीकृति की कार्यवाही कम्प्यूटरीकृत की जा चुकी है।

पर्सोनेल इन्फॉर्मेशन सिस्टम

    सचिवालय सेवा संवर्ग के समस्त अधिकारियों/कर्मचारियों का Personnel Information System के अन्तर्गत 'डेटा बेस' एन.आई.सी. द्वारा तैयार किया जा रहा है। डेटा बेस तैयार हो जाने पर इलेक्ट्रानिक माध्यम से कार्मिको के अधिष्ठान कार्य आदि कराये जाने का लक्ष्य है। इससे शासन के कार्यो में तीव्रता एवं सुगमता आएगी।

इण्टरनेट की व्यवस्था

    एन.आई.सी. द्वारा सचिवालय के समस्त भवनों में कम्प्यूटर नेटवर्क स्थापित किया जा चुका है और लगभग समस्त अधिकारियों एवं अनुभागों में इण्टरनेट की सुविधा प्रदान की गयी है। एन0आई0सी0 द्वारा इण्टरनेट पर अबाधित ब्राउजिंग एवं तीव्र्र गति के लिए सचिवालय के समस्त भवनों को ऑप्टिकल फाइबर केबल से योजना भवन को जोड़ा जा चुका है। उक्त के साथ ही कम्प्यूटर में वायरस की समस्या के निदान हेतु एकीकृत व्यवस्था के अन्तर्गत एण्टीवायरस सर्वर एवं आवश्यक एण्टीवायरस साफटवेयर इत्यादि योजना भवन में एन.आई.सी. के कार्यालय में स्थापित किया गया है।

ई-पत्रावली प्रणाली

    एन.आई.सी. के माध्यम से विकसित कराये गये ई-पत्रावली प्रणाली को सचिवालय के सभी विभागों में लागू किए जाने की कार्यवाही प्रारम्भ की गयी है। सचिवालय प्रशासन विभाग एवं सचिवलाय के 16 एकल अनुभाग वाले विभागों में ई-पत्रावली प्रणाली पायेलेट प्रोजेक्ट के रूप में लागू की गयी थी। तत्पश्चात प्रथम चरण में 28 विभागों में ई-पत्रावली प्रणाली लागू की जा चुकी है। ई-गवर्नेन्स अनिवार्य कम्प्यूटर प्रशिक्षण में भी उक्त साफ्‌टवेयर के संचालन का प्रशिक्षण निर्धारित है। इससे संबंधित कार्मिकों को ई-पत्रावली साफ्‌टवेयर के संचालन पर विशेष प्रशिक्षण भी प्रदान किया जा चुका है।

सी.यू.जी. की वेबसाइट

सी.यू.जी. निदर्शिनी की वेबसाइट http://sad.up.nic.in/mob-dir/ एन.आई.सी. के माध्यम से तैयार है जो नेटवर्क पर उपलब्ध है। अनुमन्य अधिकारियों के सी.यू.जी. नम्बर्स को वेबसाइट पर देखा जा सकता है। सचिवालय की टेलीफोन निदर्शिनी भी विभाग की वेबसाइट पर उपलब्ध है।

पुस्तकालय का कम्प्यूटरीकरण

    मुख्य भवन स्थित सचिवालय पुस्तकालय में पुस्तकों/अभिलेखों के विवरण एन.आई.सी. द्वारा उपलब्ध कराये गये साफ्‌टवेयर पर कम्प्यूटरीकृत किये जो रहे हैं तथा इस हेतु वेबसाइट भी एन.आई.सी. द्वारा विकसित की गयी है।

शासनादेशों को ऑनलाइन निर्गत किया जाना एवं इन्‍टरनेट पर अपलोड किया जाना

  उत्‍तर प्रदेश सरकार द्वारा शासनादेशों को ऑनलाइन निर्गत करने एवं इन्‍टरनेट पर अपलोड करने की व्‍यवस्‍था को दिनांक 17 फरवरी, 2014 से उ. प्र. सचिवालय के सभी विभागों में लागू किया गया है। उक्‍त व्‍यवस्‍थान्‍तर्गत शासनादेश संख्‍या-1102/बीस-13-वि-2014-4(विविध)/13-टीसी-3, दिनांक 07 मई, 2014 में निर्धारित विषय बिन्‍दुओं से सम्‍बन्धित सभी शासनादेशों को ऑनलाइन जारी एवं इन्‍टरनेट पर अपलोड किया जा रहा है। दिनांक 01 मार्च, 2014 के उपरान्‍त उ. प्र. सचिवालय के विभागों द्वारा जारी शासनादेश वेबसाइट http://shasanadesh.up.nic.in पर सभी जनसामान्‍य हेतु उपलब्‍ध हैं, जिन्‍हें जनसामान्‍य द्वारा देखा व डाउनलोड किया जा सकता है।