स्टोर्स अधीक्षक (प्रथम)

वापस अधिकारियों / कर्मचारियों के कार्य एवं दायित्व पर जाएँ

अधीक्षक स्टोर्स (प्रथम) के कर्तव्य

भण्डार में रखा फर्नीचर तथा अन्य सरकार सम्पत्ति (टाइपराइटर तथा डुप्लीकेटरों को छोड़कर) को अभिरक्षा भंडारक तथा प्रबन्धक के संयुक्त प्रभार में रहेगी। यह सामग्री जहां तक संभव हो सके भण्डार में ताला लगाकर रखी जानी चाहिये तथा उसकी एक कुंजी भण्डारक दूसरी प्रबन्धक द्वारा रखी जायेगी।

जो टाइपराइटर ,डुप्लीकेटर, कम्प्यूटर, फैक्स, फोटो कापियर्स, समस्त अग्निशमन उपकरण, समस्त प्रकार के दूरभाष संयत्र तथा उद्यान संबंधी उपकरण आदि सचिवालय के अधिकारियों तथा अनुभागों को वितरित न किये गये हो वे स्टोर्स अधीक्षक(प्रथम) के प्रभार में रहेगें। यह सामग्री भी ताले में रखी जायेगी और उसकी व्यवस्था भी उपरिलिखित प्रस्तर के अनुसार की जायेगी।

स्टोर्स अधीक्षक(प्रथम)निम्नलिखित कार्यो के लिये उत्तरदायी होगा :
  1. फर्नीचर, टाइपराइटर तथा अन्य सामग्री को, प्राप्तियों तथा निर्गमन हेतु पंजियों के निर्धारित प्रपत्र में रख-रखाव के लिये।
  2. मांग-पत्र प्राप्त होने पर अपने प्रभार में रखी गयी सामग्री को जारी करने के लिये।
  3. अधिकारियों के निवास स्थानों के लिये सक्षम प्राधिकारी के आदेशों से फर्नीचर जारी करना तथा प्रबन्धक के माध्यम से उन्हें वापस प्राप्त करना।
  4. छोटी-मोटी तथा नाशवान सामग्री की पंजी का रख-रखाव।
  5. टाइपराइटर मैकेनिक सेक्शन के कर्मचारी सचिवालय प्रशासन अनुभाग-7(विविध) के प्रशासकीय नियंत्रण में रहते हुये अधीक्षक स्टोर्स(प्रथम) के अधीन उनकी देख-रेख में कार्य करेगें।
  6. उपरोक्त कर्मचारियों के आकस्मिक अवकाश की स्वीकृति तथा चरित्र पंजिकाओं की प्रविष्टि के भी प्रतिवेदक अधिकारी स्टोर्स अधीक्षक (प्रथम) होंगे।
  7. क्रय की गयी सामग्री के बिलों का सत्यापन भी स्टोर अधीक्षक (प्रथम) द्वारा किया जायेगा।
सामग्री सम्पूर्ति के मांग-पत्रों पर निम्न प्रकार से कार्यवाही की जायेगी :-
  1. छोटी-छोटी मदों जैसे सुराही, गिलास, फिनायल, तेजाब, झाड़ू, विम, साबुन, तौलिया, चादर, गद्दे, मसनद, पीतल तथा मिट्टी के गमले, पौधों के लिये खाद तथा कीटनाशक द्वारा तथा कुर्सी बुनायी के लिये प्लास्टिक तार इत्यादि के लिये मांग-पत्रों पर स्टोर्स अधीक्षक (द्वितीय) उन्हें उपलब्ध करायेगा।
  2. फर्नीचर की ऐसाी साधारण सामग्री जो सामान्य आवश्यकताओं और मांगों की सम्पूर्ति के लिये जारी किये जाते हों, के मांग-पत्रों का निस्तारण व्यवस्थाधिकारी द्वारा किया जायेगा।
  3. वर्तमान रीति या नीति के विपरीत मामलों में या कोई विशेष सामग्री (जिसमें अलमारी, टाइमपीस या वह सामग्री सम्मिलित होगी (जो सामान्य सामग्री के अतिरिक्त हो) की सम्पूर्ति की जानी हो तो अनु/उप/संयुक्त सचिव, जिन्हें यह कार्य आवंटित हो सचिवालय प्रशासन विभाग के आदेश लिये जायेगें। ऐसे मांग-पत्रों पर अनु सचिव विचार करेगें तथा जब कभी आवश्यकता पड़े तो उच्च आदेश प्राप्त करेगें।
  4. सामग्री वास्तविक रूप से व्यवस्थाधिकारी स्टोर्स अधीक्षक के आपसी विचार-विमर्श के उपरान्त ही जारी की जायेगी और जिन मामलों में संशय होगा उन्हें अनु/उप/संयुक्त सचिव के पास भेजा जायेगा।
  5. भण्डार-पंजी में प्रविष्टियां इस विषय पर निर्धारित नियमों के अनुसार की जायेगी। मांग-पत्रों को स्टोर्स अधीक्षक निर्गमन के प्राधिकार के रूप में अपने पास रखेगा। भण्डार-पंजी पर अनु/उप/संयुक्त सचिव, सचिवालय प्रशासन अनुभाग-7 (विविध) द्वारा भी हस्ताक्षर किये जायेगें।
सचिवालय में भण्डार सामग्री के निर्गमन तथा वापसी के लिये निम्नलिखित सिद्धान्त निर्धारित किये गये हैं :-
  1. शाखा के किसी अनुभाग के लिये प्रयोग हेतु भण्डार की सामग्री के लिये मांग-पत्रों पर उन अधिकारियों द्वारा हस्ताक्षर किये जायेंगे जो शाखा का अधिष्ठान संबंधी कार्य देखते हों, शासन के सदस्यों के कार्यालय में प्रयोग करने के लिये आवश्यकता पड़ने पर शासन के सदस्यों के निजी सचिवों द्वारा किसी अधिकारी के कार्यालय कक्ष में प्रयोगार्थ सामग्री की आवश्यकता होने पर अधिकारी के वैयक्तिक सहायक द्वारा यदि उस कक्ष में एक से अधिक अधिकारी बैठते हों तो वरिष्ठ अधिकारी से सम्बद्ध वैयक्तिक सहायक द्वारा हस्ताक्षर किये जायेगें। व्यवस्थाधिकारी स्टोर्स अधीक्षक द्वारा उपरिलिखित व्यक्तियों से हस्ताक्षर से प्राप्त होने वाले मांग-पत्रों पर ही विचार किया जायेगा। मांग-पत्र में भवन और कक्ष की संख्या तथा पूरा नाम और पदनाम सदैव उल्लिखित किया जाना चाहिये।
  2. भंडार की सामग्री के लिये सभी मांग-पत्र सीधे व्यवस्थाधिकारी के पास भेजे जायें तथा स्टोर्स अधीक्षक द्वारा अधियाचक प्राधिकारी को फर्नीचर की सम्पूर्ति सीधे एक निर्गमन मेमों के साथ की जायेगी। अधियाचक प्राधिकारी द्वारा सामग्री की प्राप्ति के प्रतीक स्वरूप निर्गमन मेमो पर हस्ताक्षर किये जायेगें और उसे स्टोर्स अधीक्षक को वापस किया जायेगा परन्तु किसी अनुभाग के प्रयोगार्थ सामग्री की आवश्यकता न होने पर निर्गमन मेमों पर प्राप्ति के हस्ताक्षर उस शाखा के अधिष्ठान संबंधी कार्य देखने वाले अधिकारी के बजाय अनुभाग अधिकारी द्वारा किये जायेगें।
  3. इसी प्रकार ऐसी सामग्री की वापसी के लिये जिसकी किसी कक्ष में आवश्यता न हो, वापस लौटाई जाने वाली सामग्री की एक सूची स्टोर्स अधीक्षक के पास भेजी जानी चाहिये जो उक्त सामग्री को हटाने के पश्चात् एक प्राप्ति मेमों जारी करेगा। मांग पत्र पर कोई सामग्री प्राप्त करने के लिये अधिकृत प्राधिकारी ही उसे वापस करने के लिये सक्षम प्राधिकारी होगें और स्टोर्स अधीक्षक भंडार में उसी सामग्री को स्वीकार करेगा जिस किसी सक्षम अधिकारी के हस्ताक्षर से वापस लौटाया जाय। पावती मेमो सम्बद्ध कक्ष की पंजी में चिपका दी जायेगी तथा उक्त पंजी में वापस की गयी प्रत्येक श्रेणी की सामग्री की संख्या का उल्लेख करते हुये एक टिप्पणी लिखी जायेगी।
  4. सचिवालय में किसी कक्ष विशेष से भंडार की कोई सामग्री किसी दूसरी कक्ष को बिना स्टोर्स अधीक्षक के माध्यम से सीधे व्यवर्तित न की जाय।
  5. भंडार से जारी होने वाली तथा भंडार में प्राप्त होने वाली सामग्री पुनः जारी किये जाने से पूर्व भंडारक द्वारा रखी गयी पंजी में उल्लिखित की जायेगी। सामग्री के एक स्थान से दूसरे स्थान को संचालन के लिये तथा अधिकारियों के निवास स्थानों पर उनके प्रयोगार्थ भेजी गयी सामग्री के लिये भी प्रबन्धक उत्तरदायी होगा।